अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर ही बनेगा कोर्ट चाहे जो भी फैसला सुनाये आरएसएस मोहनभागवत

Share:


एक कार्यक्रम के दौरान आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा की अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर ही बनेगा कोर्ट चाहे जो भी फैसला सुनाये और बात सही भी है आखिर कब तक हम सिर्फ कोर्ट के भरोसे बैठेंगे । क्योंकि कोर्ट को कभी भी समय नहीं मिलने वाला राम मंदिर के फैसले को सुनाने के लिए कोर्ट को देशद्रोहियों के फैसले के लिए रात में खुलवाया जा सकता है। दही हांडी की ऊंचाई तय करने के लिए समय मिल जाएगा जलीकट्टू पर बैन लगाने के लिए समय मिल जाएगा दीपावली के पटाखों के लिए टाइम मिल जाएगा , वॉटर लेस होली का सुझाव देने के लिए वक्त मिल जाएगा लेकिन अयोध्या में राम मंदिर बनेगा इसके लिए उसे वक्त नहीं है ।

भागवत ने आगे कहा बस अब बहुत हो चुका है  हम हिन्दुवों को ही आगे बढ़ना चाहिए अपने स्वाभिमान की लड़ाई खुद से लड़नी पड़ेगी । अपने धर्म रक्षा हेतु जातियों में न बटकर हिन्दू होने का दम खम दिखाएँ । क्योंकि धर्म रक्षा हेतु अब कोई वीर शिवाजी नहीं आने वाले । हिन्दुवों जो आज तुम्हारे पास है उसकी कद्र नहीं कर रहे हो , और जो गुजर गया है उसका ढिंढोरा पीट रहे हो उस समय भी यही हुआ होगा कुछ विरोध में रहे होंगे और कुछ साथ में आज भी वही हो रहा है।

आगे भागवत जी ने कहा की गौहत्या पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगना चाहिए तभी हमारे देश का विकास संभव है। क्योंकि गाय को सनातना धर्म में माता के समान माना जाता है और जब तक हमारी गौमाता की हत्या होती रहेगी तब तक इस राष्ट्र का कोई भी प्राणी सुख चैन से नहीं रह सकता ।


1 comment: