कासगंज हिंसा के मुख्य आरोपी राशिद के घर से देसी बम और पिस्टल मिले हैं लेकिन मीडिया को अभी भी आरोपी का मजहब नहीं पता चला

Share:
kasganj hinsa

कासगंज हिंसा के मुख्य आरोपी राशिद के घर से देसी बम और पिस्टल मिले हैं लेकिन मीडिया को अभी भी आरोपी का मजहब नहीं पता चला

कासगंज हिंसा का आज तीसरा दिन है लेकिन अभी भी देशभक्त चन्दन गुप्ता को गोली मारने वाले मुख्य मुस्लिम आरोपी को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पायी है, पुलिस के द्वारा लगातार दबिश दी जा रही है डीजीपी ने कहा कि घटना के बाद आरोपी राशिद के घर से तलाशी मे देशी बम मिले है. पुलिस ने कई देशी बम बरामद किए हैं,

हिंसा करने और दंगा भड़काने वाले 60 आरोपियों की अभी तक गिरफ्तारी हो चुकी है, भारी मात्र में पुलिस बल तैनात है और साथ ही मिलिट्री बल भी तैनात है डीएम ने भी बताया है की जिन इलाकों और जगहों पर पुलिस पन्हुच्ने में असमर्थ है उस इलाके की ड्रोन से रखवाली की जा रही

26 जनवरी 2018 को एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने हर साल की तरह इस बार भी तिरंगा यात्रा निकाली थी और वो लोग वंदे मातरम और भारत माता की जय के नारे लगा रहे थे, लेकिन जिस इलाके से वो लोग गुजर रहे थे वह मुस्लिम बस्ती थी वंहा पर मुस्लिम समुदाय के लोगों की जनसंख्या ज्यादा थी, और मुस्लिम समुदाय के लोग पहले से ही इस घटना को हिंसक रूप देने के लिए तैयार थे और उन्होने एबीवीपी की निहत्थे कार्यकर्ताओं जिनके हाथ में तिरंगा था पर गोली बरसा दी पेट्रोल बम फेंके उनकी बाइक फूँक दी गयी लेकिन चन्दन गुप्ता को गोली लग गयी और चन्दन गुप्ता ने तत्काल दम तोड़ दिया, एक और हिन्दू युवक को गोली लगी थी जिसकी मृत्यु भी अस्पताल में हो चुकी है

No comments