अगर सड़क पर ही नमाज पढ़नी है मुल्लों तुमको तो मस्जिद के लिए क्यों मरे जा रहे हो

Share:


अगर मस्जिद पवित्र स्थान है तो गंदी सड़क पर आके नमाज क्यों पढ़ते हो और अगर सड़क पर ही नमाज पढ़नी है तो मंदिर के लिए क्यों मरे जा रहे हो। ये बातें शायद मुल्ले आपको न समझा पाएँ लेकिन हम आपको समझा देते हैं। अगर आप किसी शहर में रहते हैं बड़े या छोटे उससे मतलब नहीं है तो आपने देखा होगा की नदी के पास नाले के पास नगर निगम की जमीन पर इन मुल्लों के कब्जे रहते हैं अगर पास में रेल्वे लाइन है तो आपने देखा होगा की उस इलाके में मुल्लों ने ही कब्जा कर के रखा है और अगर आप गाँव से हैं तब ओ आपको पता ही होगा की जो भी खलिहान तलब उसर बंजर की जमीन होती है उसपर इनका अवैध कब्जा होता है।

सड़क पर नमाज पढ़ने का मुख्य उद्देश्य सिर्फ इतना है आम आदमी को अपने झुंड की ताकत दिखाना और आम इंसान को परेशान करना। इनका मुख्य उद्देश्य है गुंडई करना दंगा करना अपनी औकात दिखाना अपने से कमजोर और नीचे वालों को मारना आप खुद देख सकते हैं जंहा भी ये बहुसंख्यक होते हैं वंहा से हिन्दू और अन्य जातियाँ बड़ी तेजी से कम होने लगती हैं। या फिर ये उनपर इतने अत्याचार करने लगते हैं की हिन्दू वंहा से खुद ही पलायन करने लगता है उदाहरण तो आपको पता ही होंगे कश्मीर बंगाल केरल कैराना बहुत सारे हैं
दैनिक अपडेट टीम सिर्फ हिन्दुवों और हिन्दुत्व के लिए काम करने वाली संस्था है, जिसको आगे बढ़ाने के लिए दैनिक अपडेट टीम को आर्थिक मदद की जरूरत है कृपया इसमे योगदान करके हमे आर्थिक रूप से मजबूत करने का प्रयास करें ताकि हम बिना किसी आर्थिक दबाव के हिन्दुत्व का काम ऐसे ही कर सके जय श्री राम .

No comments