भंसाली ने फिल्म पसीना बहकर बनाई है लेकिन राजपूतों ने अपना रक्त बहाकर इतिहासबनाया है - सनी देओल

Share:


भंसाली ने फिल्म पसीना बहकर बनाई है लेकिन राजपूतों ने अपना रक्त बहाकर इतिहास बनाया है - सनी देओल

फिल्म पद्मावती पर हुये विवाद का कोई अंत नजर नहीं आ रहा है । इसी के चलते इस फिल्म के निर्माताओं ने इस फिल्म की रिलीज डेट को आगे भी बढ़ा दिया है । जिसकी अभी भी कोई डेट फिक्स नहीं हो पायी है । इस फिल्म के विरोध में आम आदमी से लेकर खास आदमी भी शामिल है और कई बड़े बड़े नेता और अभिनेता भी इसकी खिलाफत कर रहे हैं तो कुछ इनके समर्थन में भी हैं ।

फिल्म पद्मावती का विरोध सर्वप्रथम करणी सेना ने शुरू किया और आज की तारीख में विरोध का ये आलम है की इस फिल्म से जुड़े सितारों के साथ ही इनके घर वालों तक को भी सुरक्षा मुहैया कारवाई गयी है । इस सुरक्षा के पीछे इन फिल्मस्टार्स के बिगड़े बोल भी हैं । क्योंकि जैसा बर्ताव दीपिका रणवीर और भंसाली ने किया है उससे किसी का भी खून खौलना लाज़मी है। अभी हाल ही में दीपिका ने कहा की गाय का मूत्र पीने वाले ही फिल्म पद्मावती का विरोध कर रहे हैं । तो रणवीर ने कहा की अगर फिल्म पद्मावती रिलीज नहीं हुई तो मैं मुस्लिम धर्म अपना लूँगा।

कुछ नेताओं और करणी सेना के अध्यक्षों ने कहा की हम सिर्फ सेन्सर बोर्ड के सहारे नहीं बैठ सकते हैं । ये फैसला सिर्फ सेन्सर बोर्ड नहीं ले सकता है की ये फिल्म हिन्दुवों की भावनाओं को आहात करेगी या नहीं । इसीलिए अगर कोई भी हिन्दुवों की आन बान और शान के खिलाफ जाएगा या इतिहास में छेद चाड करेगा

No comments